प्रोफेसर डॉ. शीतलाप्रसाद ए. दुबे


के.सी. महाविद्यालय के हिन्दी विभाग अध्यक्ष एवं शोध निर्देशक

के.सी. महाविद्यालय के हिन्दी विभाग अध्यक्ष एवं शोध निर्देशक आचार्य डॉ. शीतला प्रसाद दुबे हिन्दी शिक्षा एवं साहित्य जगत का जाना पहचाना नाम है। सुप्रसिद्ध साहित्यकार, रचनाकार, आलोचक डॉ. दुबे का जन्म 20 जनवरी, 1958 उत्तर-प्रदेश के जौनपुर जिले में हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश से प्राप्त करने के पश्चात आपकी उच्च शिक्षा मुंबई में हुई। आपने डॉ. सुधाकर मिश्र के मार्गदर्शन में ‘‘जयशंकर प्रसाद का गीतिकाव्य’’ विषय पर शोध कर डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की। आपकी दर्जन भर मौलिक, संपादित पुस्तकें, तथा विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में सैकड़ों लेख एवं शोध पत्र प्रकाशित हो चुके हैं। आकाशवाणी पर 40 से भी ज्यादा वार्ताएं तथा आपके लिखे कई रूपक भी प्रसारित हुए हैं। आपके मार्गदर्शन में अब तक 18 विद्यार्थियों ने डॉक्टरेट तथा 17 विद्यार्थियों ने एम.फिल की उपाधि प्राप्त की है। मुंबई विश्वविद्यालय हिन्दी अध्ययन मंडल की अध्यक्षता के साथ-साथ आपने कई समितियों की अध्यक्षता के दायित्व का सफलता पूर्वक निर्वहन किया है। आप अन्य कॉलेजों एवं विभिन्न विश्वविद्यालयों की कई समितियों में सदस्य तथा अध्यक्ष हैं। आपने सैकड़ों राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठियों में अध्यक्ष, प्रमुख वक्ता एवं विषय विशेषज्ञ के दायित्व का निर्वहन किया है। वर्तमान में आप महाराष्ट्र राज्य हिन्दी साहित्य अकादमी के सदस्य हैं।


प्रकाशन
समकालीन हिन्दी कथा साहित्य का मूल्यांकन
भूमंडलीकरण और हिन्दी
सुधाकर मिश्र अभिनंदन ग्रंथ
अलका सरावगी का उपन्यास साहित्य